RT @gautambhatia88@twitter.com

After innumerable con calls, so good to finally meet the great @waikwawanyoike@twitter.com in person yesterday - one of the lawyers who argued in the constitutional challenge to the Kenyan biometric ID system. Judgment expected later this month.

🐦🔗: twitter.com/gautambhatia88/sta

I couldn't sleep 😊 so after much learning, trying and error solving I have added two new themes to mstdn.social! 💪 :mastodon:

Jokes aside, imagine the shamelessness of a prime minister who accuses other people of being against transparency when his own party has been thoroughly exposed in the and its complete opaque nature.
Why do we tolerate it? Because he gives bombastic speeches?

जबीं सिजदा करते ही करते गई
हक़-ए-बंदगी हम अदा कर चले
#मीर तकी मीर

दिखाई दिए यूँ कि बेख़ुद किया
हमें आप से भी जुदा कर चले
#मीर तक़ी मीर

जो तुझ बिन ना जीने को कहते थे हम
सो उस अहद को अब वफ़ा कर चले
#मीर तक़ी मीर

फ़क़ीराना आए सदा कर चले
मियाँ ख़ुश रहो , हम दुआ कर चले
#मीर तक़ी मीर

इशरत-ए-क़तरा है दरिया में फ़ना हो जाना
दर्द का हद से गुज़रना है दवा हो जाना
#ग़ालिब

झूठा निकला क़रार तेरा
अब किसको है ऐतबार तेरा
#इंशा

आह करने में शान जाती है
ज़ब्त करने में जान जाती है

Wow. Watched the @ShashiTharoor@twitter.com stand-up thingy also. Very super. And @kunalkamra88@twitter.com was.... himself :p

Very supercool.

‏کیسی چلی یہ اب کے ہوا تیرے شہر میں
‏بندے بھی ہو گۓ ہیں خدا تیرے شہر میں
‏⁧‫#خاطر‬⁩ غزنوی

‏कैसी चली ये अब के हवा तेरे शहर में
‏बंदे भी हो गए हैं ख़ुदा तेरे शहर में
‏⁦‪#ख़ातिर‬⁩

संग के शहर में
संगदिल, संग जाँ
संग की है ज़मीं
संग का आसमाँ
हाये! ये शाम-ए-ग़म भी
कहाँ हो गई

#उर्दूमुहावरे
बखि़या उधेड़ना = हक़ीक़त खोलना
नाख़ून ना दे ख़ुदा तीखे ऐ पँजा-ए-जुनुँ
देगा तमाम अक़्ल का बखिया उधेड़ तू
#ज़ौक़
@madversity

#उर्दूमुहावरे
जुल देना = झाँसा देना
क्या फ़रेब आपसे किया मैं ने
कौन सा तुमको जुल दिया मैं ने
@madversity @iamrana

Show more
Mastodon

Discover & explore Mastodon with no ads and no surveillance. Publish anything you want on Mastodon: links, pictures, text, audio & video.

Mobile apps
The team
Funding